उत्तराखण्ड

यात्रा सिस्टम को सशक्त बनाने के लिए डीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश

भविष्य में यात्रा को सुगम और सुरक्षित बनाने पर दिया जोर

 देहरादून। जनपद में चारधाम यात्रा सिस्टम को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने को लेकर जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने मंगलवार को क्लेक्ट्रेट सभागार में यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े समस्त अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान संचालित यात्रा अनुभवों और मौजूदा व्यवस्थाओं पर चर्चा की गई और यात्रा सिस्टम को सशक्त बनाने के लिए सुझाव लिए गए।


बद्रीनाथ तथा हेमकुंड यात्रा में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि आने वाले समय में यात्रा मार्गों में श्रद्धालुओं के लिए सभी प्रकार की सुविधाओं और व्यवस्थाओं में सुधार करना होगा। उन्होंने पूरे यात्रा सीजन के लिए एक समर्पित सिस्टम विकसित करने पर जोर दिया।

नगर निकायों को यात्रा पड़ाव एवं यात्रा मार्गों पर ठोस अपशिष्ट प्रबंधन एवं सफाई व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाने के लिए सुझाव लिए। यात्रा के दौरान ट्रैफिक मैनेजमेंट, पार्किंग, आवास, भोजन, पानी, शौचालय एवं यात्रियों की सुविधा के लिए साइनेज के साथ संचार व्यवस्था को सुदृढ करने को कहा।

हेमकुंड यात्रा मार्ग पर स्ट्रीट लाइट, पैदल मार्ग चौडीकरण, पशु शेड एवं शौचालय निर्माण हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। लोनिवि को कोठिया सैंण-नंदप्रयाग मोटर मार्ग चौड़ीकरण हेतु तैयार की गई डीपीआर शीघ्र उपलब्ध कराने को कहा। पर्यटन विभाग को यात्रा मार्ग पर शुलभ शौचालयों के निर्माण हेतु भूमि चिन्हित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि इस यात्रा सीजन के अनुभवों को लेकर भविष्य में चारधाम यात्रा को सुव्यवस्थित, सुरक्षित एवं सुगम बनाने के लिए अपने सुझाव दें।

जिलाधिकारी ने मौजूद यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा भी की। उन्होंने एनएचआईडीसीएल और बीआरओ को निर्देशित किया कि पर्याप्त संख्या में मशीनें लगाते हुए यात्रा मार्ग से तत्काल मलबे को साफ करें और दोनों तरफ से बिना रूकावट वाहनों की आवाजाही सुनिश्चित की जाए। सभी एसडीएम अपने क्षेत्रों में संबधित कार्यदायी संस्था के साथ सड़कों का निरीक्षण करें। यात्रा मार्ग पर साफ सफाई एवं स्वच्छता पर जोर देते हुए जिलाधिकारी ने नगर निकायों को शौचालयों में बिजली, पानी की आपूर्ति के साथ नियमित सफाई रखने के निर्देश दिए।

एसडीएम को यात्रा मार्ग पर सफाई व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने को कहा। तीर्थयात्रियों को सुरक्षित खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने, होटलों में घरेलू सिलेंडर के उपयोग तथा ओवर रेटिंग रोकने के लिए जिला पूर्ति अधिकारी को यात्रा मार्ग पर राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों के साथ संयुक्त निरीक्षण करने को कहा। परिवहन अधिकारी को वाहनों की फिटनेस की जांच और पुलिस के साथ संयुक्त चैकिंग अभियान चलाते हुए ओवरलोडिंग के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बैठक में पुलिस अधीक्षक रेखा यादव, मुख्य विकास अधिकारी डा.ललित नारायण मिश्र, अपर जिलाधिकारी डा.अभिषेक त्रिपाठी, पुलिस उपाधीक्षक नाताशा सिंह, एसीएमओ डा.वीपी सिंह सहित वर्चुअल माध्यम से यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े तमाम विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share