उत्तराखण्ड

काशीपुुरमें तंत्र-मंत्र के फेर में दो सगी बहनों को उतारा मौत के घाट

ऊधम सिंह नगर। काशीपुर नगर क्षेत्र के मोहल्ला लक्ष्मीपुर पट्टी की खालिक कॉलोनी में एक घर से दो सगी बहनों के शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस का दावा है कि तंत्र-मंत्र के चलते पिता ने ही दोनों बेटियों की हत्या की है। हालांकि मामले में विस्तारित जांच की बात कही जा रही है।

जानकारी के अनसुार लक्ष्मीपुर पट्टी की खालिक कॉलोनी में अली हसन उर्फ सूरज के घर में शनिवार की सुबह लगभग नौ बजे उसकी बेटी फरीन (19) व यासमीन (11) के शव पड़े होने की सूचना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना मिलने पर एसपी अभय सिंह, सीओ वंदना वर्मा, कोतवाल मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप मिश्रा, उपनिरीक्षक दीपक जोशी व एसओजी के कुलदीप सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने घर में मौजूद मृतक फरीन व यासमीन की मां हुस्न जहां व भाई फरमान से जानकारी ली।

उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके परिवार में चार बेटी हिना, शाहिन, फरीन व यासमीन के अलावा तीन बेटे अरमान, फरमान व रिजवान हैं। हिना की शादी हो चुकी है वह अपनी ससुराल में रहती है। पूछताछ के दौरान पता चला कि अली हसन का परिवार तंत्र-मंत्र में विश्वास करता है और दोनों बेटियों की मौत का कारण भी इसे ही बताया जा रहा हैं। वहीं, जब पुलिस ने राज मिस्त्री का काम करने वाले पिता अली हसन व उसके अन्य दो बेटों के संबंध में पूछताछ की तो  पता चला कि वह कटोराताल स्थित भुल्लन शाह बाबा की मजार पर बीती रात से गए हुए हैं।

पुलिस ने क्षेत्रवासियों से जानकारी जुटाई तो पता चला कि 4-5 दिन से घर के अंदर से काफी चीखने-चिल्लाने की आवाजें आ रही थीं। अली हसन का परिवार मोहल्ले में किसी से मेलजोल नहीं रखता था। बीते गुरुवार को क्षेत्रवासियों की सूचना पर पहुंची पुलिस को परिजनों ने बताया था कि दोनों बहनों पर ऊपरी हवा का साया है जिस पर पुलिस कर्मी परिजनों को समझाकर और उन्हें अच्छे डॉक्टरों से इलाज करावाने की सलाह देकर वापस लौट आए थे। शनिवार की सुबह फरीन व यासमीन की मौत की खबर पुलिस को मिली तो पुलिस अधिकारी भी चौंक गए।

एसपी अभय सिंह ने बताया कि मामला संदिग्ध है। प्रथम दृष्टया इन हत्याओं के पीछे प्रारंभिक जांच में तंत्र-मंत्र की संभावना दिखाई दे रही है। अभी तक की जांच में यही सामने आया है कि दोनों बेटियों पर ऊपरी हवा का साया होने के चलते पिता ने ही पीट-पीट कर उनकी उन्हें मार डाला, लेकिन पुलिस हर पहलुओं पर जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि घर के पास ही एक खाली प्लाट में कटा हुआ मुर्गा, कुछ रुपये व खून के निशान भी मिले हैं।


आसपास के लोगों ने बताया कि इनमें से छोटी बहन की मौत लगभग 3 दिन पहले हो चुकी थी। जबकि बड़ी बहन की हत्या बीती रात किए जाने की आशंका लग रही है। जबकि कल रात ही पिता और दो भाई फरार हो गये थे। पुलिस ने आज मृतकाओं के माता-पिता, एक बहन व तीनों भाइयों को हिरसात में ले लिया। एसपी अभय सिंह ने बताया कि दोनों बहनों की मौत का स्पष्ट कारण पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और पुलिस की जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

एसपी अभय सिंह ने बताया घटना के जांच के लिए रुद्रपुर से फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाया गया। फोरेंसिक टीम में शामिल हेड कांस्टेबल भूपेंद्र सिंह, यशपाल आर्य व कांस्टेबल हेमेंद्र टम्टा और डॉग स्क्वायड की हेड कॉस्टेबल डॉग कैटी को लेकर मौके पर पहुंचे और जांच की।

 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share