उत्तराखण्ड

शिक्षा और संस्कार की पाठशाला है विद्या मंदिर : कर्नल कोठियाल

सरस्वती विद्या मंदिर के वार्षिकोत्सव में शामिल हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता कर्नल अजय कोठियाल 

डाकपत्थर। सरस्वती विद्या मंदिर नई यमुना कॉलोनी डाकपत्थर के वार्षिक उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता कर्नल अजय कोठियाल ने कहा है कि भारतीय संस्कृति पर आधारित शिक्षा और संस्कार देने का काम विद्या भारती द्वारा संचालित शिक्षण संस्थानों में होता है। उन्होंने कहा कि शिशु मंदिर और विद्या मंदिर में पढ़ने वाले छात्रों के अंदर बाल्य काल से ही देशभक्ति के संस्कार के बीच रोपे जाते हैं।


नई यमुना कॉलोनी डाकपत्थर में सरस्वती विद्या मंदिर के वार्षिक उत्सव पर कर्नल अजय कोठियाल ने छात्र-छात्राओं का उत्सवर्धन करते हुए कहा है कि उत्तराखंड देश का पहला राज्य बन गया है जहां समान नागरिक संहिता लागू होगी। जिससे सभी नागरिकों के समानता और समरसता का भाव जागृत होगा।
वार्षिक उत्सव कार्यक्रम में वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर बृजेश तिवारी ने छात्रों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा है कि विद्या मंदिर शिक्षा और संस्कार की पाठशाला है। संस्कारित जीवन वर्तमान युग में अत्यंत आवश्यक है।

इस मौके पर छात्रों ने गढ़वाली, कुमाऊनी, जौनसारी, हिमाचली गुजराती, कश्मीरी आदि विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों प्रस्तुत दी। छात्रों ने दंड प्रदर्शन कर आत्मरक्षा का संदेश दिया। कार्यक्रम में विद्यालय के प्रधानाचार्य अनुसूया प्रसाद ज़खमोला ने विद्यालय की वर्षभर की उपलब्धियां एवं खेल के क्षेत्र में विद्यालय द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर बनाई गई पहचान का भी उल्लेख किया ।
इस मौके पर विद्यालय के प्रबंधक भारत चौहान ने कहा कि विद्यालय निरंतर आगे बढ़ रहा है। बोर्ड परिक्षा के लिए हाई स्कूल और इंटर के छात्रों को शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि आने वाले परीक्षा में विद्या मंदिर के छात्र जो प्रदेश के वरीयता सूची में स्थान पाएंगे उन्हें विद्यालय की ओर से सम्मानित किया जाएगा।


इस अवसर पर विद्यालय के अध्यक्ष रविंद्र चौहान ने छात्र-छात्राओं को अपनी शुभकामनाएं दींं।  कार्यक्रम में विद्यालय के कोषाध्यक्ष सुबोध गोयल, विद्यालय के पूर्व प्रबधक पुष्कर सिंह बिष्ट, कलीराम भट्ट, गंभीर सिंह चौहान सतपाल, चौहान केसरी चंद महाविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष अशीष बिष्ट, अनिल शर्मा, अवधेश गिरी, दिवाकर नाथ, मुकेश त्यागी कमलेश शिलोदी, धन सिंह बिष्ट, अखिलेश कुमार, चंदन सिंह कंडारी, भूपेंद्र शर्मा, दीपक खन्ना, शकुंतला राणा, पूजा पाल, गीतिका गुप्ता, शालू , शीतल आदि सहित बड़ी संख्या में अभिभावक उपस्थित थे ।

छात्रों ने नशा मुक्ति और मोबाइल से दूर रहने का संदेश

वार्षिक उत्सव के मौके पर छात्र-छात्राओं ने अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। अंग्रेजी और हिंदी में छात्रों ने भाषण देकर संस्कार और शिक्षा की बात कही। इस मौके पर छात्रों ने नाटिका प्रस्तुत कर नशे के कारण होने वाले नुकसान से युवाओं को जागरूक किया। बाल्यवस्थाओं में मोबाइल के कारण जो बचपन प्रभावित हो रहा है उससे बचने और दूर रहने का संदेश भी दिया।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share