राजनीति

महिला आरक्षण बिल पर भाजपा देर आए दुरुस्त आए: करन माहरा

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने नारी शक्ति वंदन अधिनियम 2023 का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी लम्बे इंतजार के बाद सदन पटल पर आये महिला आरक्षण बिल का समर्थन करती है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी से लेकर भारत देश को दुनियां में अग्रणी देशों की श्रेणी में खड़ा करने में महिलाओं की बराबर की भागीदारी रही है। कांग्रेस पार्टी ने हमेशा महिलाओं के सम्मान एवं समानता को प्राथमिकता दी है।

कहा कि पहली बार स्व. राजीव गांधी स्थानीय निकायों में महिलाओं को आरक्षण देने सम्बन्धी विधेयक लाये थे जिसे स्व. नरसिम्हा राव सरकार ने पारित किया आज उसी का नतीजा है कि देशभर के स्थानीय निकायों के माध्यम से देशभर के निकायों में 15 लाख चुनी हुई महिला प्रतिनिधि हैं। महिलाओं के लिए राजनीति में जिस आरक्षण की परिकल्पना स्व. राजीव गांधी जी ने की थी वह इस बिल के पारित होने से पूरी होगी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने यह भी कहा कि जब 2008 में डा. मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी की सरकार ने महिला आरक्षण बिल को राज्यसभा में भारी बहुमत से पारित कर लोकसभा में रखने का प्रयास किया तब वर्तमान में सत्तारूढ़ भाजपा के सांसदों ने इसका घोर विरोध किया था परन्तु आज राजनैतिक मजबूरी तथा आगामी समय में होने वाले लोकसभा चुनाव के चलते भाजपा को महिला आरक्षण बिल लाना पड़ा, परन्तु देर आये दुरूस्त आये तथा कांग्रेस पार्टी इस फैसले का स्वागत एवं समर्थन करती है।

प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष संगठन एवं प्रशासन मथुरादत्त जोशी ने भी नारी शक्ति वंदन अधिनियम 2023 महिला आरक्षण बिल का स्वागत करते हुए कहा कि इस बिल के पास होने से महिलाओं का उनका अधिकार प्राप्त होगा तथा सही मायनों में महिलाएं राजनैतिक क्षेत्र में पुरूषों के कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगी तथा स्व. राजीव गांधी का महिलाओं को राजनीति में बराबर का हक देने का सपना साकार होगा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share