उत्तराखण्ड

हत्या को आत्महत्या बता रही थी युवती, पुलिस ने किया हत्या का खुुुलासा

लिव-इन में रह रही महिला ने की साथी युवक की हत्या

ऊधम सिंह नगर। बाजपुर में युवक की हत्या को आत्महत्या दिखाने की कोशिश को पुलिस ने नाकामयाब कर दिया। युवक की हत्या उसके साथ लिव इन में रह रही महिला ने की थी। आरोपी महिला युवक की हत्या को आत्महत्या दिखाने की कोशिश कर रही थी लेकिन पुलिस ने मामले का खुलासा कर आरोपी के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

जानकारी के अनुसार मधु सिंह पत्नी रोहित सिंह निवासी शान्ति कालोनी, नमूना थाना बाजपुर जिला उधमसिंहनगर ने थाना बाजपुर आकर पुलिस को तहरीर दी थी कि छह नवंबर 2021 को उसके छोटे भाई करन मण्डल (27) पुत्र जयदेव मण्डल निवासी सुभाषनगर वार्ड बरहैनी बाजपुर जिला उधमसिंहनगर को उसके साथ लिवइन रिलेशनशिप में रहने वाली संजना (21) उर्फ डोली पुत्री विनोद कुमार द्वारा गला दबाकर हत्या कर दी गयी थी। महिला ने उसके भाई की हत्या को आत्महत्या दिखाने की कोशिश की जा रही है।

पुलिस ने संजना पुत्री विनोद कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखी तो मृतक करन की मौत का कारण दम घुटना पाया गया। जिस पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने अपने को स्वीकार कर लिया। संजना ने बताया कि मृतक करन को पिछले चार वर्षों को जानती थी। वह उसके साथ दो साल से सुभाषनगर वार्ड न0- 08 बाजपुर में किराये के मकान पर लिव इन रिलेशनशिप में अपने माता-पिता के साथ रह रही थी।

संजना ने बताया कि करन मण्डल पहले अच्छा कमाता था लेकिन लॉकडाउन के बाद उसका काम छूट गया और वह अधिक शराब पीना सीख गया। जिस कारण उन दोनों के बीच आये दिन झगडा होता रहता था। घटना के दिन भी मृतक करन मण्डल ने अत्यधिक शराब पीकर आया और मुझे मारने पीटने लगा। मेरा रोना सुनकर पापा विनोद कुमार व मम्मी रमावतो कमरे में आई। उन्होंने करन को समझाया तो वह उनसे भी गाली गलौच करने लगा। पापा मुझे बाहर ले आये तो यह और ज्यादा गाली गलीच करने लगा।

बताया कि जब मैं उसे समझाने दुबारा कमरे में गयी तो वह मेरा गला दबाने लगा। मैं जोर से चिलाई तो मम्मी पापा अन्दर आये और कहा कि इसे आज जान से मार देते हैं। मैने व मम्मी ने करन मण्डल को पकड़ लिया और पापा ने जोर से उसका गला दबा दिया। जब उसका हिलना डुलना बन्द हो गया तो उसका गला हमने मफलर से कस दिया ताकी फांसी के निशान उसके गले में आये। लोगों को शक न हो यह सोचकर हमने करन को मफलर से पंखे में लटका दिया और मम्मी पापा अपने कमरे में चले गये।

बताया कि मैंने दरवाजा अन्दर से लॉक कर दिया और चिल्लाने लगी मेरे चिल्लाने से सब लोग दौड़े आये। जिन्होंने दरवाजे को जोर से धक्का दिया तो दरवाजे के उपर की कुन्डी टूट गयी दरवाजा खुल गया। किसी को शक न हो। मम्मी पापा ने कहा कि अभी इसमें सांस है इसे तुरन्त डाक्टर के पास लेकर जाते हैं और मफलर काटकर हम उसे बाजपुर सरकारी अस्पताल ले गये। हम अपनी चाल में सफल हो गये थे। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट से घटना का खुलासा हो गया।

पुलिस ने आरोपी संजना के बयान के आधार पर आरोपी विनोद कुमार (45) पुत्र रामवृक्ष व रमावती (43) पत्नी विनोद कुमार को गिरफ्तार किया गया।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share