उत्तराखण्ड

वृद्धजनों के प्रति हो सम्मानजनक व्यवहार: अग्रवाल

ऋषिकेश। कैबिनेट मंत्री डा.प्रेमचंद अग्रवाल ने अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। इस मौके पर 80 वर्षीय 16 लोगों को सम्मानित किया गया।

मानव चेतना केंद्र में वरिष्ठ नागरिक कल्याण संगठन की ओर से आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मंत्री डा. अग्रवाल ने दीप प्रज्जवलित कर किया। डा. अग्रवाल ने कहा कि दुनिया भर में वृद्धों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार, भेदभाव, उपेक्षा और अन्याय को रोका जा सके।  इसके लोगों के अंदर जागरूकता लाने के लिये वृद्धजन दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाए जाने के पीछे एक उद्देश्य यह भी है कि वृद्धजनों के प्रति सामाजिक व्यवहार बेहतर हो सके।

डा. अग्रवाल ने कहा कि जिस घर में वरिष्ठ नागरिक होता है, वहां गलतियां कम होती हैं। कहा कि वरिष्ठ नागरिक का अनुभव उस घर व परिवार के प्रत्येक सदस्य को मिलता है। ज्यादातर ऐसे परिवार संस्कारवान भी होते हैं। कहा कि बुजुर्गों का घर पर रहना ही परमसुख की अनुभूमि कराता है। बुजुर्ग जब तक घर पर मौजूद हैं तब तक घर व परिवार गलत राह पर नहीं भटक सकता।

डा. अग्रवाल ने कहा कि बुजुर्गों का आशीर्वाद जिस घर व परिवार में रहता है वहां पितृदोष जैसी समस्या भी नहीं देखते को मिलती है। बुजुर्ग हर घर और परिवार की शान है। बुजुर्ग हर परिवार की रीढ़ हैं। बुजुर्ग के होने से समाज को नई दिशा मिलती है। डा. अग्रवाल ने कहा कि जिस परिवार में बुजुर्गों का अनादर होता है, वह परिवार कभी सुखी नहीं रह सकता है।

डा. अग्रवाल ने कहा कि बुजुर्गों का आशीर्वाद बहुत कम ही को मिल पाता है। इसलिए हमें बुजुर्गों का सम्मान करते हुए उनके सत्कार करना चाहिए। कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को एक दिन इसी अवस्था से गुजरना पड़ता है।

इस मौके पर सीमा डेंटल कॉलेज के निदेशक डॉ हिमांशु ऐरन, वरिष्ठ नागरिक कल्याण संगठन के अध्यक्ष प्रमोद कुमार जैन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अशोक रस्तोगी, महासचिव एसपी अग्रवाल, कोषाध्यक्ष प्रदीप कुमार जैन, आईडी जोशी, हरीश ढींगरा, एमसी त्रिवेदी, जय प्रकाश गोयंका, वेद प्रकाश ढींगरा, सत्येंद्र शर्मा, एसपी अग्रवाल, नरेश गर्ग सहित सैकड़ों की संख्या में वरिष्ठ नागरिक आदि उपस्थित रहे।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share